SERIAL AGHOR PURUSH - DONATION
 
     
   
     
 

Skb production यानि संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन रजिस्टेशन नम्बर: 17370 कंपनी पेनकाॅड नम्बर: ACPFS5423C हमारी ये कंपनी रजिस्टर हैं मुम्बई भारत में। अब हमारे संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन के संचालक श्री धमेॅन्द्र भारती जी से निवेदन करता हूं कि वो इस विषय पर विस्तार से चर्चा करे। आप सभी देश-विदेश वासियों को हमारा प्रेम भरा नमस्कार । और आप सभी लोगों से अनुरोध है कि अघोर पुरुष किनाराम बाबा जी को एलबम और सिरीयल के माध्यम से दुनिया के सामने लाया जा रहा है। आप सभी लोगों के आर्शिवाद से (Audios) संगीत रिकार्ड हो चुका है अब विडियो की तैयारी हो रही है और फिर आप सभी की कृपा से सिरीयल आने वाले कुछ दिनों TV के माध्यम से प्रसारित किया जायेगा । आप सभी से निवेदन हैं कि आगे आकर इस कार्य मे सहयोग करे ,आप को जो डोनेशन देना है तो स्लीप या (रसीद) की डिटेल्स जानकारी लेकर डोनेशन के जरिये हर कोई व्यक्ति संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन को सहयोग कर सकते हैं और डोनेशन दाता अपना नाम और मोबाइल या (फोन) नंबर और डोनेशन दिया हुआ एमाउंट मैसेज कर सकते हैं जो वेवेबसाइट में अपडेट किया जाएगा। धन्यवाद।

Bank Name: HDFC BANK
Company Name: SANT KINARAM BABA PRODUCTION
BanK A/c no- 50200011124542
RTGS/NEFT IFSC: HDFC0001574
SHOP NO.. 5-5A. KRISHNA REHENCY. SUNDER NAGAR NEAR. DALMIA COLLAGE. MALAD WEST MUMBAI-400064 MAHARASHTRA
Website: skbproduction.com
Whatsapp / call / Paytm +917666309029

Thanks & Regards SKB PRODUCTION
Mr. Dharmendra Bharti

 
     
   
     
  Skb production It means sant kinaram baba production Registration No:17370 Company pancard No:ACPFS5423C Our this company is register. Mumbai in India | Now, ours sant kinaram baba production that respective administrator Mr. Dharmendra bharti I request you plz come and describe this topic Congratulations to the country's most loved people | And you have the approval of some serious human Aghor Man, Kinaram Baba is being brought in front of the world through album and serial. Audios Song has been recorded by all the people's duets. Now the video is being prepared and you will be ready for the serial by the grace of everyone. . anybody wants to give a donate, then everyone can help saint Sant kinaram Baba Production through donate, with details of the receipt of the slip. And people who donate can send their name and mobile number (phone) number and donate given message which will be updated on the website. Bank Name: HDFC BANK Company Name: SANT KINARAM BABA PRODUCTION BanK A/c no- 50200011124542 RTGS/NEFT IFSC: HDFC0001574 SHOP NO.. 5-5A. KRISHNA REHENCY. SUNDER NAGAR NEAR. DALMIA COLLAGE. MALAD WEST MUMBAI-400064 MAHARASHTRA Website: skbproduction.com Whatsapp / call / Paytm +917666309029 Thanks & Regards SKB PRODUCTION Mr. Dharmendra Bharti  
     
   
     
  1 मैं सन्नी उपाध्याय एस के बी प्रोडक्शन यानी संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन में आप सभी उत्तर प्रदेश के सहयोगियों को तहें दिल से अभिनंदन करता हूं। 2 और मैं सीता सभी उत्तर प्रदेश सहयोगियों को संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन में आप सभी का स्वागत करती हूं। 3 आप सभी लोगों से अनुरोध है कि आप लोग अपना अपना योगदान करे जिस से अघोर पुरुष संत किनाराम बाबा को दुनिया के सामने लाया जायेगा। और दुनिया के सामने लाने की जिम्मेदारी उठाये हैं श्री धमेॅन्द्र भारती जी जो संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन यानी एस के बी प्रोडक्शन के ऑनर है। 4 और आप सभी उत्तर प्रदेश वासियों की सहायता से TV सिरीयल के माध्यम से दुनिया के सामने प्रसारित किया जायेगा। 5 आप सभी उत्तर प्रदेश वासियों को हमारा प्रेम भरा नमस्कार मैं सन्नी उपाध्याय आप सभी उत्तर प्रदेश वासियों को बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूँ संत किनाराम बाबा के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप हमारी वेबसाइट skbproduction.com पर जा सकते हो।  
     
  संत किनाराम बाबा प्रोडक्शन यानी (एस के बी प्रोडक्शन) (आॅनर) मिस्टर धर्मेंद्र भारती अघोर पुरुष बाबा किनाराम बाबा ऊकिनारामउत्तर भारतीय संत परंपरा के एक प्रसिद्ध संत थे, जिनकी यश-सुरभि परवर्ती काल में संपूर्ण भारत में फैल गई।वाराणसीके पासचंदौलीजिले के ग्राम रामगढ़ में एक कुलीन रघुवंशी क्षत्रिय परिवार में सन् 1601 ई. में इनका जन्म हुआ था। बचपन से ही इनमें आध्यात्मिक संस्कार अत्यंत प्रबल थे। तत्कालीन रीति के अनुसार बारह वर्षों के अल्प आयु में, इनकी घोर अनिच्छा रहते हुएभी, विवाह कर दिया गया किंतु दो तीन वर्षों बाद द्विरागमन की पूर्व संध्या को इन्होंने हठपूर्वक माँ से माँगकर दूध-भात खाया। ध्यातव्य है कि सनातनधर्म में मृतक संस्कार के बाद दूध-भात एक कर्मकांडहै । बाबा के दूध-भात खाने के अगले दिन सबेरे ही वधू के देहांत का समाचार आ गया। सबको आश्चर्य हुआ कि इन्हें पत्नी की मृत्यु का पूर्वाभास कैसे हो गया। अघोर पंथ के ज्वलंत संत के बारे में ऐक कथानक प्रसिद्ध है,कि ऐक बार काशी नरेश अपने हाथी पर सवारहोकर शिवाला स्थित आश्रम से जा रहे थे,उन्होनें बाबा किनाराम के तरफ तल्खी नजरों से देखा,तत्काल बाबा किनाराम ने आदेश दिया दिवाल चल आगे,इतना कहना कि दिवाल चल दिया और काशी नरेश की हाथी के आगे - आगेचलने लगा। तब काशी नरेश को अपने अभिमान का बोध हो गया और तत्काल बाबा किनाराम जी के चरणों में गिर गये ।[1]वैराग्ययह विरक्त तो रहते ही थे, घर से भी निकल पड़े और घूमते-फिरतेगाजीपुर(अबबलिया) जिले केकारों ग्रामके पासकामेश्वर धाममें रामानुजी संप्रदायके संत शिवाराम की सेवा में पहुँचे। कुछ समय बाद दीक्षा देने के पूर्व महात्मा जी ने परीक्षार्थ इनसे स्नान ध्यान के सामान लेकर गंगातट पर चलने कोकहा। यह शिवाराम जी की पूजनादि की सामग्री लेकर गंगातट से कुछ दूर पहुँच कर रुक गए तथा गंगाजी को झुककर प्रणाम करने लगे। जब सिर उठाया तब देखा कि भागीरथी का जल बढ़कर इनके चरणों तक पहुँच गया है। इन्होंने इस घटना को गुरु की महिमा मानी। शिवाराम जी दूर से यह सब देख रहे थे। उन्होंने किशोर किनाराम को असामान्य सिद्ध माना तथा मंत्र दीक्षादी। जनश्रुतियों के अनुसार कारों के कामेश्वर धाममें साधना के दौरान बाबा किनाराम प्रतिदिन मध्यरात्रि में कारो से पैदल चलकर करीमुद्दीनपुर केकष्टहरणी भवानी मंदिरपहुंचकर दर्शन करते थे और भोर होने से पहले कारो पहुंच जाते थे। बाबा किनाराम को माता कष्टहरणी ने अपने हाथों से प्रसाद देकर सिद्धि प्रदान की थी।[2]पत्नी की मृत्यु के बाद शिवाराम जी ने जब पुनर्विवाह किया तब किनाराम जी ने उन्हें छोड़ दिया। घूमते-घामते नईडीह गाँव पहुँचे। वहाँ एक वृद्धा बहुत रो कलप रही थी। पूछने पर उसने बताया कि उसके एकमात्र पुत्र को बकाया लगान के बदले जमींदार के सिपाही पकड़ ले गए हैं। किनाराम जी ने वृद्धा के साथ जमींदार के द्वार पर जाकर देखा कि वह लड़का धूप में बैठा रखा है। जमींदार से उसे मुक्त करने का आग्रह व्यर्थ गया तब किनाराम ने जमींदार से कहा-जहाँ लड़का बैठा है वहाँ की धरती खुदवा ले और जितना तेरा रुपया हो, वहाँ से ले ले। हाथ दो हाथ गहराई तक खुदवाने पर वहाँ अशेष रु पए पड़े देखकर सब स्तंभित रह गए। लड़का तो तुरंत बंधनमुक्त कर हीदिया गया, जमींदार ने बहुत बहुत क्षमा मांगी। बुढ़िया ने वह लड़का किनाराम जी को ही सौंप दिया। बीजाराम उसका नाम था और संभवत: किनाराम जी के शरीर त्याग पश्चात्‌ वाराणसी के उनके मठ की गद्दी पर वही अधिष्ठित हुआ।गिरनार की यात्राऔघड़ों के मान्य स्थल गिरनार पर किनाराम जी को दत्तात्रेय के स्वयं दर्शन हुए थे जो रुद्र के बादऔघड़पन के द्वितीय प्रतिष्ठापक माने जाते हैं। ऐसी मान्यता है कि परम सिद्ध औघड़ों कोभगवान दत्तात्रेयके दर्शनगिरनारपर आज भी होते है वर्तमान काल में, किनारामी औघड़पंथी परमसिद्धों की बारहवीं पीढ़ी में, वाराणसीस्थअघोरेश्वर भगवान रामको भी गिरनार पर्वत पर ही दत्तात्रेय जीका प्रत्यक्ष दर्शन हुआ था। गिरनार के बाद किनाराम जी बीजाराम के साथ जूनागढ़ पहुँचे। वहाँ भिक्षा माँगने के अपराध में उस समय के नवाब के आदमियों ने बीजाराम को जेल में बंद कर दिया तथा वहाँ रखी 981 चक्कियों में से, जिनमें से अधिकतर पहले से ही बंदी साधु संत चला रहे थे, एक चक्की इनकोभी चलाने को दे दिया। किनाराम जी ने सिद्धिबल से यह जान लिया तथा दूसरे दिन स्वयं नगर में जाकर भिक्षा माँगने लगे। वह भी कारागार पहुँचाए गए और उन्हें भी चलाने के लिए चक्की दी गई। बाबा ने बिना हाथ लगाए चक्की से चलने को कहा किंतु यह तो उनकी लीला थी, चक्की नहीं चली। तब उन्होंने पास ही पड़ी एक लकड़ी उठाकर चक्की पर मारी। आश्चर्य कि सब 981 चक्कियाँ अपने आप चलने लगीं। समाचार पाकर नवाब ने बहुत क्षमा माँगी और बाबा के आदेशानुसार यह वचन दिया कि उस दिन से जो भी साधु महात्मा जूनागढ़ आएँगे उन्हें बाबा के नाम पर ढाई पाव आटा रोज दिया जाएगा। नवाब की वंशपरंपरा भी बाबा के आशीर्वाद से ही चली।अघोरपंथ के साधकउत्तराखंडहिमालयमें बहुत वर्षों तक कठोर तपस्याकरने के बाद किनाराम जी वाराणसी केहरिश्चंद्र घाटके श्मशान पर रहनेवाले औघड़ बाबा कालूराम (कहते हैं, यह स्वयं भगवान दत्तात्रेय थे) के पास पहुँचे। कालूराम जी बड़े प्रेम से दाह किए हुए शवों की बिखरी पड़ी खोपड़ियों को अपने पास बुला-बुलाकर चने खिलाते थे। किनाराम को यह व्यर्थ का खिलवाड़ लगा और उन्होंने अपनी सिद्धि शक्ति से खोपड़ियों का चलना बंद कर दिया। कालूराम ने ध्यान लगाकर समझ लिया कि यह शक्ति केवल किनाराम में है। इन्हें देखकर कालूराम ने कहा-भूख लगी है। मछली खिलाओ। किनाराम ने गंगा तट की ओर मुख कर कहा-गंगिया, ला एक मछली दे जा। एक बड़ी मछली स्वत: पानी से बाहर आ गई। थोड़ी देर बाद कालूराम ने गंगा में बहे जा रहे एक शव को किनाराम को दिखाया। किनाराम ने वहीं से मुर्दे को पुकारा, वह बहता हुआ किनारे आ लगा और उठकर खड़ा हो गया। बाबा किनाराम ने उसे घर वापिस भेज दिया पर उसकी माँ ने उसे बाबा की चरणसेवा के लिए  
     
   
     
     
   
     
   
     
 
DONATORS
 
     
 
  • VIP Donators
  • Mumbai
  • Delhi
  • U.P
Name
Amount
Mobile
Date
State
Dharmendra Bharti 600000 7666309029 15/3/2017 Maharashtra
Sanjay Raj Bharti 11001 9029182727 12/10/2017 U.P
Vijayalaxmi M. Guldekar 11011 8082050264 22/11/2017 Maharashtra
Name
Amount
Mobile
Date
Hari om Yadav 1001 9638854261 29/9/2017
Ramesh Radhesham Jaiswar 1001 9819962536 25/9/2017
Vikas Jaiswar 501 8286815552 25/9/2017
Shivbadan Ram 51 9819962536 25/9/2017
Anil Kumar Jaiswar 501 9769293310 25/9/2017
Suresh Kumar Jaiswar 501 9619497550 25/9/2017
Vipin Kumar Jaiswar 101 9220220254 25/9/2017
Bablu Kumar 201 7506179807 26/9/2017
Vinod Kumar Jaiswar 101 9819144003 26/9/2017
Bharat Singh Bhatti 1001 8141570404 26/9/2017
Dinesh Kumar Jaiswar 501 X 7738875674 28/9/2017
Santosh Kumar Jaiswar 501 9892007764 28/9/2017
Deepak Kumar Sharma 501 X 7045700505 11/10/2017
Sonu Kumar Bharti 501 X 8452887737 12/10/2017
Dharmendra Kumar Bharti 101 X 8795539301 12/10/2017
Jugesh Kumar Jaiswar 501 9819962536 13/10/2017
Ranjan Kumar 51 9819962536 13/10/2017
Danish Ali 51 7303452375 15/10/2017
Jitu Patel 251 X 9594417496 15/10/2017
Ajay kumar 5 9607537184 21/10/2017
Pradeep kumar 1 7235986380 02/10 / 17
Ashok Kumar Jaiswar 501 X 9833185484 21/10/2017
Nilesh Jaiswar 501 X 9004230125 21/10/2017
Name
Amount
Mobile
Date
Suraj kumar 2312 7081771620 29/10/17
Rajan kumar bharti 2332 9821351864 29/10/17
Bale 2111 9654247688 30/10/17
Ashok kumar 1101 9555249446 29/10/17
Rajesh jaiswar 1001 9711724183 26/10/17
Surendra kumar 501 9990967628 26/10/17
Sanjay kumar 101 9560119875 26/10/17
Jitendra kumar bharti 101 8800252973 26/10/17
Rohit kumar 151 8586839014 27/10/17
Vikash kumar (Indrawati devi) 101 8745055171 27/10/17
Satish kumar 20 9871827015 27/10/17
Sachin kumar bharti 101 9555045130 27/10/17
Jay Prakash 221 7531004856 27/10/17
Shiv Kumar 221 8285987277 27/10/17
Sunil kumar 11 9910283168 27/10/17
Manish kumar 20 9599254813 28/10/17
Vinay Kumar 10 8795409831 28/10/17
Ram bachan 551 X 8130473250 28/10/17
Aakash kumar 101 X 9871484548 28/10/17
Ramchandra Gautam (chandrawati) 101 981148611 28/10/17
Ajay kumar (Hari) 1051 X 7838910482 28/10/17
Sikam Devi 101 9821351864 29/10/17
Jagdish kumar 151 9310044963 29/10/17
Name
Amount
Mobile
Date
Shri. Muharuram 5001 8851430834 17/12/2017
 
     
     
     
 
 
 
   
>> Overview  
   
>> Album  
   
>> Making  
   
>> Teaser  
   
>> Promo  
   
>> Movie Link  
   
>> Donation